मरियम शिउना ने फिर खड़ा किया विवाद, इस बार मामला गंभीर

0
29

चित्र : मालदीव की निलंबित मंत्री मरियम शिउना।

नई दिल्ली। मालदीव की एक निलंबित मंत्री मरियम शिउना ने विपक्षी पार्टी मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी (एमडीपी) के खिलाफ, सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के बाद हुए विवाद पर माफी मांगी है। इस पोस्ट में उनके प्रतीक चिह्न में अशोक चक्र जैसा कुछ था।

वो कहती हैं, ‘मैं अपने हाल के एक सोशल मीडिया पोस्ट के बारे में बात करना चाहूंगी, जिसने ध्यान आकर्षित किया है और आलोचना भी हुई है। मैं अपने हाल के पोस्ट की विषय-वस्तु के कारण उत्पन्न किसी भी भ्रम या अपमान के लिए अपनी ओर से हार्दिक क्षमायाचना व्यक्त करती हूं।’

बता दें कि मरियम शिउना, जो मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू की हैं। उन्होंने अपने सोशल अकाउंट एक्स पर लिखा…

‘मेरे ध्यान में लाया गया कि मालदीव की विपक्षी पार्टी एमडीपी को दिए गए मेरे जवाब में इस्तेमाल की गई तस्वीर भारतीय ध्वज से मिलती-जुलती थी। मैं यह स्पष्ट करना चाहती हूं कि यह पूरी तरह से अनजाने में हुआ था, और इससे उत्पन्न हुई किसी भी गलतफहमी के लिए मैं ईमानदारी से खेद व्यक्त करती हूं।’

पूर्व मंत्री ने कहा, ‘मालदीव भारत के साथ अपने संबंधों और आपसी सम्मान को बहुत महत्व देता है। भविष्य में मैं इस तरह की चूक को रोकने के लिए अपने द्वारा साझा की जाने वाली सामग्री की जांच करने में अधिक सतर्क रहूंगी।’

चुनावों के नज़दीक आने के साथ ही मालदीव के राष्ट्रपति ने सुलह का स्वर अपनाया है और कहा है कि भारत उनके देश का ‘सबसे करीबी सहयोगी’ बना रहेगा। उन्होंने नई दिल्ली से मालदीव को ऋण राहत प्रदान करने का भी आग्रह किया है, जिस पर 2023 के अंत तक भारत का लगभग 400.9 मिलियन डॉलर बकाया है।

यह पहली बार नहीं है जब शिउना भारत पर अपनी टिप्पणी के लिए सुर्खियों में आई हैं। इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लक्षद्वीप यात्रा पर उनकी टिप्पणी पर मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। इसके तुरंत बाद, शिउना और दो अन्य को मंत्री पद से निलंबित कर दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here