…तो क्या ‘अरविंद केजरीवाल लालची’ हैं : बीजेपी नेता डॉ. हर्षवर्धन

0
21

चित्र : बीजेपी नेता डॉ. हर्षवर्धन।

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत से, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपना दूसरा आदेश जारी किया। इसके बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने मंगलवार को उनकी आलोचना करते हुए कहा कि केजरीवाल अपनी असुरक्षा के कारण पद नहीं छोड़ना चाहते हैं।

नैतिक आधार पर मुख्यमंत्री पद से उनके इस्तीफे की मांग करते हुए भाजपा नेता डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि गिरफ्तारी के बावजूद केजरीवाल का दिल्ली का मुख्यमंत्री बने रहना उनके लालच को दर्शाता है।

हर्षबर्धन ने कहा, ‘दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल जेल में हैं। इसलिए उन्हें नैतिक रूप से इस्तीफा दे देना चाहिए और अपनी जिम्मेदारी किसी और को सौंप देनी चाहिए। अरविंद केजरीवाल का अभी भी अपने पद पर बने रहना दर्शाता है कि वह लालची हैं और अपनी असुरक्षा के कारण अपनी कुर्सी नहीं छोड़ना चाहते हैं।’

तो वहीं, बीजेपी नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि मुख्यमंत्री जेल से कोई निर्देश जारी नहीं कर सकते। यह एक नाटक है। मैंने इस बारे में उपराज्यपाल से शिकायत की है और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

भारतीय जनता पार्टी के नेता हरीश खुराना ने कहा कि केजरीवाल पीड़ित कार्ड खेलने की कोशिश कर रहे हैं। केजरीवाल भ्रष्टाचार के कारण जेल में हैं, जिसके लिए पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को पिछले 14 महीनों से जमानत नहीं मिली है। केजरीवाल शराब घोटाले के सरगना हैं। अरविंद केजरीवाल कहते थे कि भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे लोगों को इस्तीफा दे देना चाहिए, लेकिन अब वह इस्तीफा नहीं दे रहे हैं और सलाखों के पीछे से आदेश जारी कर रहे हैं।

इस पूरे मामले के बीच आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने आज कहा कि शराब नीति मामले में पिछले सप्ताह गिरफ्तार किए गए अरविंद केजरीवाल ने ईडी की हिरासत से निर्देश जारी किए हैं कि सभी सरकारी अस्पतालों और मोहल्ला क्लीनिकों में दवाएं और जांच की सुविधा उपलब्ध हो।

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि ईडी की हिरासत में होने के बावजूद अरविंद केजरीवाल दिल्ली के लोगों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं। उन्हें चिंता है कि उनके जेल में जाने की वजह से दिल्ली के लोगों को परेशानी न हो। बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने रविवार को जेल से अपना पहला कार्यकारी आदेश जारी किया था, और मंगलवार को दूसरा आदेश जारी किया है।

इस बीच, दिल्ली सरकार की योजना सचिव निहारिका राय ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी से सार्वजनिक सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी। उन्होंने एक प्रेस नोट में कहा कि मुख्यमंत्री की गिरफ्तारी से सार्वजनिक सेवाएं, सामाजिक कल्याण योजनाएं और सब्सिडी प्रभावित नहीं होंगी।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार द्वारा वर्तमान में दी जा रही सभी सार्वजनिक सेवाएं, सामाजिक कल्याण योजनाएं और सब्सिडी निर्बाध रूप से जारी रहेंगी। लोगों को इस संबंध में किसी भी तरह की भय फैलाने वाली और दुर्भावनापूर्ण गलत सूचना से गुमराह नहीं होना चाहिए।

मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी ने अरविंद केजरीवाल के इस्तीफे की मांग को लेकर दिल्ली में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया। दिल्ली प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा, ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री भ्रष्ट और बेईमान हैं और उन्होंने दिल्ली की जनता को लूटा है। हम उनका इस्तीफा मांगने के लिए सचिवालय जा रहे हैं। सरकार जेल से नहीं चल रही है। आप के चरित्र की तरह ही आदेश भी फर्जी हैं। अरविंद केजरीवाल को इस्तीफा देना होगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here