ये ‘मोदी की गारंटी है’ BJP का मजाक उड़ाकर ‘आप’ ने की उपवास की शुरूआत

0
19

चित्र : आम आदमी पार्टी (आप) के नेता संजय सिंह।

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में आम आदमी पार्टी के शीर्ष नेता एक दिन के उपवास के लिए जंतर-मंतर पर एकत्र हुए। आम आदमी पार्टी (आप) के नेता संजय सिंह ने कथित शराब घोटाले को लेकर भारतीय जनता पार्टी पर तीखा हमला किया और दिल्ली के उपराज्यपाल को चुनौती दी कि वे, बीजेपी नेताओं को सलाखों के पीछे डालें।

अब खत्म हो चुकी आबकारी नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जमानत पर बाहर आए संजय सिंह ने आरोप लगाया कि बीजेपी के खाते में 55 करोड़ रुपए की मनी ट्रेल पाई गई है। संजय सिंह ने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए कहा कि देखो! ये ‘मोदी की गारंटी है’, वो अरबिंदो फार्मा द्वारा दिए गए दान का जिक्र कर रहे थे, जिसके निदेशक और प्रमोटर सरथ चंद्र रेड्डी को इसी मामले में गिरफ्तार किया गया था। रेड्डी बाद में मामले में सरकारी गवाह बन गए और उन्हें जमानत मिल गई।

संजय ने राष्ट्रीय राजधानी में जंतर-मंतर पर एकत्रित लोगों से कहा, ‘यदि आप में (एलजी में) थोड़ी भी नैतिकता बची है तो एक पत्र लिखें.. बीजेपी नेताओं को सलाखों के पीछे डालें, उन्होंने शराब घोटाला किया है।’

अपने दावों को दोहराते हुए सिंह ने बीजेपी को स्वतंत्र भारत की सबसे भ्रष्ट पार्टी बताया और ‘मोदी की गारंटी’ के नारे का मजाक उड़ाया। सिंह ने कहा कि मोदी सभी भ्रष्ट नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करने की गारंटी देते हैं और उन लोगों के नाम भी लिए जो भाजपा में शामिल हो गए और बाद में जांच एजेंसियों से छूट गए।

आप आदमी पार्टी के नेता ने कहा कि मुझे दिखाइए कि यह कहां लिखा है कि अगर किसी ईमानदार मुख्यमंत्री को झूठे आरोपों में जेल में डाल दिया जाए तो उसे अपना इस्तीफा दे देना चाहिए। ‘आप’ नेताओं को पिछले एक साल से जमानत नहीं मिल रही है।

बता दें कि रविवार को जंतर-मंतर पर ‘आप’ के शीर्ष नेता अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में एक दिन के उपवास पर एकत्र हुए। केजरीवाल पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक भी हैं। पार्टी नेताओं ने बताया कि इसी तरह के विरोध प्रदर्शन दूसरे राज्यों के साथ-साथ विदेशों में रहने वाले भारतीयों द्वारा भी किए जा रहे हैं। इनमें बोस्टन में हार्वर्ड स्क्वायर, लॉस एंजिल्स में हॉलीवुड साइन, वाशिंगटन डीसी में भारतीय दूतावास के बाहर, न्यूयॉर्क टाइम्स स्क्वायर और टोरंटो, लंदन और मेलबर्न समेत कई जगहों पर विरोध प्रदर्शन शामिल हैं। तो वहीं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here