गोपी थोटाकुरा, करने जा रहे हैं कुछ ऐसा, ये पढ़कर हो जाएंगे हैरान

0
23

चित्र : गोपी थोटाकुरा।

नई दिल्ली। गोपी थोटाकुरा ब्लू ओरिजिन के न्यू शेफर्ड-25 (एनएस-25) मिशन के तहत पर्यटक के रूप में अंतरिक्ष में जाने वाले पहले भारतीय बनने वाले हैं। पायलट गोपीचंद थोटाकुरा पर्यटक के रूप में अंतरिक्ष की यात्रा करने वाले पहले भारतीय बनने वाले हैं। वे अमेज़न के संस्थापक जेफ बेजोस की अंतरिक्ष कंपनी ब्लू ओरिजिन के न्यू शेफर्ड-25 (एनएस-25) मिशन के चालक दल के हिस्से के रूप में अंतरिक्ष की यात्रा करेंगे। उड़ान की तारीख जल्द ही घोषित की जाएगी।

भारतीय वायु सेना के पूर्व पायलट विंग कमांडर राकेश शर्मा 1984 में अंतरिक्ष में जाने वाले पहले भारतीय थे। थोटाकुरा के बारे में, ब्लू ओरिजिन्स(एक अंतरिक्ष कंपनी) ने लिखा, ‘गोपी एक पायलट और एविएटर है, जिसने गाड़ी चलाने से पहले उड़ना सीखा था। गोपी बुश, एरोबैटिक और सीप्लेन के साथ-साथ ग्लाइडर और हॉट एयर बैलून भी उड़ाते है, और एक अंतरराष्ट्रीय मेडिकल जेट पायलट के रूप में काम कर चुका है। एक आजीवन यात्री, उसका सबसे हालिया साहसिक कार्य उसे माउंट किलिमंजारो के शिखर पर ले गया।’

अंतरिक्ष मिशन के लिए चुने जाने पर गोपी थोटाकुरा ने कहा कि ब्लू ओरिजिन की टैगलाइन है ‘पृथ्वी के लाभ के लिए’ और यही बात यहां ध्यान देने योग्य है कि धरती माता की रक्षा के लिए, वे ग्रह के बाहर जीवन और रोमांच की तलाश कर रहे हैं। सभी प्रयास जो किए जा रहे हैं।’

तो वहीं, थोटाकुरा ने एएनआई को दिए एक साक्षात्कार में कहा, ‘मैं अभी अपनी भावनाओं को व्यक्त नहीं कर सकता, क्योंकि यह कुछ ऐसा है जो शहरी शब्दकोष में नहीं है। यह कुछ ऐसा है जिसे मैं अपने साथ लेकर चलता हूं। मैं हमेशा लोगों से कहता हूं कि जब आप पैदा होते हैं, तब से लेकर जब तक आप दुनिया से नहीं चले जाते, आप जागते हैं और आकाश देखना चाहते हैं, सांस लेना चाहते हैं, लेकिन मैं इसके विपरीत करने का अवसर चाहता हूं।’

बता दें कि अमेज़न के संस्थापक जेफ बेजोस की अंतरिक्ष कंपनी ब्लू ओरिजिन ने अपने न्यू शेफर्ड-25 (एनएस-25) मिशन के लिए छह सदस्यीय चालक दल की घोषणा की है, जिसमें मेसन एंजेल, सिल्वेन चिरोन, केनेथ एल हेस, कैरोल स्कॉलर, गोपी थोटाकुरा और पूर्व वायु सेना कप्तान एड ड्वाइट शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here