मौसम का तेवर लगातार गर्म, तापमान बढ़ने से अस्पतालों में बढ़ी मरीजों की भीड़

0
1260

लखनऊ । लखनऊ में इन दिनों तापमान का चढ़ता पारा लोगों की सेहत पर प्रतिकूल असर डाल रहा है। इसकी चपेट में आने से रामसागर मिश्रा 100 सैय्या अस्पताल में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसी के चलते उल्टी दस्त व बुखार से पीड़ित सैकड़ों की संख्या में मरीज चिकित्सालय पहुंच रहे हैं।

आपको बता दे कि मौसम का तेवर लगातार सख्त हो रहा है बीते दिनों की तरह इन दिनों में सुबह से ही झूलसाने वाली धूप का सिलसिला शुरू हो गया है साथ-साथ चल रही गर्म हवाओं ने लोगों को खूब परेशान किया हुआ है। धूप की तपिश भी पूरे दिन बनी रही लगातार चल रही गर्मी का प्रकोप सीधा असर लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। जिसके चलते पहले से ज्यादा अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ रही है। फिजिशियन चिकित्सक से परामर्श लेने के लिए मरीज लाइनों में खड़े दिखाई दिए।

सुबह से शुरू हुआ इलाज का सिलसिला दोपहर दो बजे के बाद तक जारी रहा है। सीएमएस पुष्पलता कनौजिया ने बताया कि लगभग 800 से अधिक मरीजों की ओपीडी है जिसमें अलग-अलग बीमारियों से परेशान मरीज़ आ रहे है।

लू और गर्मी से बचने के लिए इस तरह बरते सावधानी

चिकित्सा अधीक्षक सुमित कुमार महाराज ने बताया कि गर्मी का असर लोगों पर तेजी से पड़ता है ऐसे में प्रतिकूल मौसम के बीच में स्वस्थ रहने के लिए एहतियात बरतना जरूरी लू से बचने के लिए थोड़े-थोड़े अंतराल पर पानी पीते रहे तेल मसाला वाली खाद्य सामग्री का सेवन करने से बचे अपने भोजन में ऐसी खाद्य सामग्रियों का शामिल करें जिसमें पानी की पर्याप्त मात्रा हो ओआरएस घोल का सेवन करें उल्टी दस्त शुरू होने पर तत्काल चिकित्सक से संपर्क करें धूप में निकलने से बचे सिर वह शरीर के अन्य हिस्सों को ढककर रखें।

फिजिशियन चिकित्सक ने लू से बचने के लिए दी ये सलाह

रामसागर मिश्रा 100 सैया संयुक्त चिकित्सालय के फिजिशियन चिकित्सा गिरीश चंद्र पांडे ने बताया लोग तला भुना खाना खाने से बचे ,पानी 5 से 6 लीटर प्रतिदिन पिये, इसके साथ ही घर से बाहर जब कोई बहुत जरूरी हो तभी निकले, साथ ही ज्यादा से ज्यादा घर पर रुके मौसम ठंडा होने पर घर से बाहर निकले।

गर्मी के मौसम में आंख की देखभाल बेहद जरूरी
गर्मी के मौसम में आंखों की देखभाल बहुत जरूरी है। डॉ रत्नेश पाण्डेय ने बताया कि गर्मियों का मौसम शुरू होते ही सूरज अपने तेवर दिखाने लगता है। ऐसे में हमें आंखों की विशेष देखभाल करने की जरूरत है। सूरज की किरणों में छुपी हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणों व गर्मी की आंधी से आंखों में जलन, चुभन, लाल होना, पानी आना, खुजली आदि समस्याएं शुरू हो जाती है। इन उपायों से मिल सकता है आंखों की समस्याओं से निजात। उन्होंने बताया कि दिन में 2 से 3 बार आंखों को साफ पानी से धोए ताकि लू व धूल, मिट्टी आदि साफ हो, आंखों को मसलना नहीं है। अल्ट्रावॉयलेट किरणों से बचाने वाले बड़े फ्रेम के चश्मे उपयोग करने चाहिए। आंखों के स्वस्थ्य बनाए रखने के लिए हरी सब्जियां, मौसमी फल, दूध व विटामिन ए से भरपूर भोज करें व बार-बार पानी पिए। पढ़ाई करते समय पर्याप्त मात्रा में रोशनी होनी चाहिए और भरपूर नींद लेना बहुत जरूरी है। इसलिए रोज 8 से 9 घंटे जरूर नींद लें। कंप्यूटर व मोबाइल पर काम करने से आंखों में थकान, पानी आना, जलन होने की शिकायत होती है। इससे बचने के लिए आंख की पलकों को नियमित झपकाते रहें और हर 20 मिनट के बाद कम से कम दो मिनट का ब्रेक जरूर ले।

स्किन के तनाव से बचने के लिए एंटीग्लेयर चश्मे तथा आंख के सूखेपन से बचने के लिए लुब्रीकेटिंग आईड्रॉप का प्रयोग करें। सामान्य आंखों को आई ड्रॉप व दवाई की जरूरत नहीं होती है। आई ड्रॉप एक बार खुल जाने के बाद 30 दिन तक ही उपयोग में लेना चाहिए। आंख के लाल होने, चुभन या दर्द होने पर डॉक्टर की सलाह ज़रूर लेनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here