मुख्तार अंसारी का शव सुपुर्द-ए-खाक, पोस्टमार्टम से हुआ मौत का खुलासा

0
13

चित्र : मुख्तार अंसारी का पार्थिव शरीर सुपुर्द-ए-खाक।

लखनऊ। गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी का पार्थिव शरीर शनिवार सुबह सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। उनका पार्थिव शरीर शुक्रवार देर रात उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में उनके घर पहुंचा। शहर के प्रशासन ने गैंगस्टर से नेता बने उनके अंतिम संस्कार के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया था।

मुख़्तार अंसारी के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी ने कहा था कि अंतिम संस्कार शनिवार सुबह किया जाएगा। सिबगतुल्लाह अंसारी ने शुक्रवार को मीडिया को बताया, ‘हमें कुछ देरी से शव मिला, इसलिए आज रात अंतिम संस्कार नहीं किया जा सकता। यह कल सुबह किया जाएगा। मैं सभी से उनके लिए प्रार्थना करने का अनुरोध करता हूं।’

बता दें कि हत्या के दोषी मुख्तार अंसारी की बांदा के एक अस्पताल में मौत हो गई, जहां वह जेल में बंद था। उसकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई। हालांकि, उसके परिवार ने दावा किया कि स्थानीय प्रशासन ने उसे ‘धीमा जहर’ खिलाया था। मुख्तार अंसारी की पोस्टमार्टम जांच से पुष्टि हुई कि उनकी मौत जहर से नहीं बल्कि हार्ट अटैक से हुई।

शुक्रवार को पोस्टमार्टम की निगरानी करने वाले सूत्र ने नाम न छापने की शर्त पर एक समाचार एजेंसी को बताया, ‘मुख्तार अंसारी की मौत का कारण दिल का दौरा (मायोकार्डियल इंफार्क्शन) पाया गया।’ शव परीक्षण पांच डॉक्टरों के एक पैनल द्वारा किया गया था।

रानी दुर्गावती मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम के समय मुख्तार अंसारी के छोटे बेटे उमर अंसारी भी मौजूद थे। मुख्तार अंसारी की मौत की तीन सदस्यीय टीम मजिस्ट्रेट जांच करेगी। उमर अंसारी ने मांग की थी कि शव का पोस्टमार्टम दिल्ली के एम्स में कराया जाए, लेकिन उनकी मांग खारिज कर दी गई। उमर अंसारी ने शुक्रवार को कहा कि जांच से परिवार की आशंकाओं को दूर करने में मदद मिलेगी।

उमर ने शुक्रवार को कहा, ‘हमें उम्मीद है कि अदालत हमारे द्वारा व्यक्त किए जा रहे संदेह की जांच में मदद करेगी। हम अपनी कानूनी टीम से परामर्श करेंगे। हमें पूरा विश्वास है कि यह प्राकृतिक मौत नहीं बल्कि एक सुनियोजित हत्या है।’

गौरतलब है कि मुख्तार अंसारी को गुरुवार रात 8.25 बजे अस्पताल लाया गया था। नौ डॉक्टरों की टीम ने उनका इलाज किया लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मुख्तार अंसारी के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी ने दावा किया कि उन्हें उचित इलाज नहीं दिया गया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here