नदी में डूबने से हो रही मौतों पर रोक के लिए लखनऊ पुलिस की पहल,अब तक आधा दर्जन बच्चों ने नदी, नहर व तालाबों में गवाई अपनी जान

1
2698

सोशल मीडिया के माध्यम से कमिश्नरेट पुलिस ने की अपील, बरतें सावधानियां

लखनऊ । गर्मी से निजात पाने की लिए आज कल लोग तरह तरह के जुगाड़ खोजते है, शहर में कूलर, पंखे है तो ग्रामीण क्षेत्र में लोग पास के तालाब, नहर, और नदी में डुबकी मार के गर्मी से निजात पाते हैं लेकिन क्या अपने कभी सोचा की ग्रामीणों को इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ता है।

नदी, नहर व तालाबों में बच्चों के डूबने से हो रही मौत के मामले पर अंकुश लगाने के लिए कमिश्नरेट पुलिस ने गाइड लाइन जारी की है। उन्होंने अभिभावकों को भी सचेत करते हुए बताया है कि बिना कुशल प्रशिक्षण के बच्चों को नदी-तालाबों में नहाने के लिए न भेजें। इसके अलावा उन्होंने नदी में नहाते समय स्टंट करने से और सेल्फी व रील बनाने मना किया है। क्योंकि यह बच्चों व अन्य किसी भी उम्र के लोगों के लिए जानलेवा साबित हो सकता है। बता दें कि बीते तीन दिनों में करीब आधा दर्ज बच्चों की नहाते समय डूबने से मौत हो चुकी है।

कमिश्नरेट पुलिस ने जारी की एडवाइजरी,इन पांच बातों का रखे खास ध्यान

लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस के ट्विटर हेंडल पर गुरुवार को एक पोस्ट किया गया। इस पोस्ट के माध्यम से कमिश्नरेट पुलिस ने लोगों को जागरूक करते हुए लिखा है कि गर्मी से बेहाल हैं? और बाहर नदी, नहर व तालाब में नहाने जा रहे हैं तो बरतें यह सावधानियां……..।
1-बिना सटीक जानकारी के नदी, तालाब, नदी व नहर आदि में नहाने न जाएं।
2-कम उम्र के बच्चों को नदी, नहर, तालाबों आदि से दूर रखे और अकेले न जाने दें।
3-बच्चों को पुल व ऊंचे टीलों कूदकर स्नान करने से मना करें।
4-नहाते समय पानी में स्टंट न करें न ही सेल्फी-रील आदि बनाएं। यह जानलेवा हो सकता हैं।
5-यदि कोई व्यक्ति डूब रहा है तो बिना कुशल प्रशिक्षण-तैराकी के उसे बचाने न जाएं। सिर्फ पानी के बाहर उपलब्ध साधन जैसे बांस, साड़ी, धोती व रस्सी का उपयोग कर उसे बचाने का प्रयास करें।

आइये जानते हैं कि कितने बच्चों ने इस गर्मी से निजात पाने के चक्कर में जान से हाथ धो बैठे

1-गोसाईगंज कोतवाली की चौकी गंगागंज के अंतर्गत सलेमपुर गांव में वहीं के तीन बच्चे सैफ (12), अरमान (10), और अरमान का 8 वर्षीय भाई बुधवार को नहाने के लिए गोमती नदी में उतरे थे। नहाते समय तीनों बच्चे डूबने लगे। बच्चों को डूबते हुए देखकर आसपास मौजूद लोगों ने बचाने का प्रयास किया। इस घटना में अरमान और उसके भाई को बचा लिया गया, लेकिन तीसरे बच्चे सैफ की मौत हो गई।
2- शारदा नगर नई मस्जिद निलमथा थाना कैंट निवासी मोहम्मद जमील कहना था कि उनका 19 वर्षीय छोटा भाई यूसुफ उर्फ बाबू बाइक रिपेरिंग का काम करता था। सोमवार शाम यूसुफ दोस्त आर्यन, आसिफ और रोहन के साथ ग्राम भटपुरवा गांव के पास इंदिरा नहर में नहाने गया था। नहर में नहाते समय उसका संतुलन बिगड़ गया और डूबकर उसकी मौत हो गई।
3- फैजुल्लागंज मडिय़ांव निवासी गौतम विश्वास का 15 वर्षीय बेटा बाबू मंगलवार को ठाकुरगंज स्थित पीपे वाले पुल के पास नदी में नहाने आया था। इसी बीच संतुलन बिगडऩे से वह नदी में डूब गया और उसकी मौत हो गई।
4- सआदतगंज के अम्बरगंज निवासी असलम ने बताया था कि उनका 21 वर्षीय बेटा सलमान फास्ट फूड का ठेला लगाता था। सोमवार को वह दोस्तों के साथ बीबीडी स्थित इन्दिरा डैम घूमने गया था। इस बीच इन्दिरा नहर में नहाते समय सलमान डूब गया और उसकी मौत हो गई।
5-गुड़म्बा इलाके में रविवार दोपहर करीब दो बजे कुकरैल नाले में एक 11 वर्षीय बच्चे का शव उतराता मिला था। लोगों का कहना है कि वो यहां पर नहाने आया था। गहरे पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई थी।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here