योगी और ब्रजेश पाठक आमने-सामने, खत्म होगा योगी का ये बड़ा अभियान

0
58

सीएम योगी के फैसले पर बगावती तेवर में नजर आये यूपी के डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ,मीडिया के सामने खुले आम योगी के फैसलों को बृजेश पाठक ने नकार दिया हैं बृजेश पाठक ने कहा है कि योगी का ये एक गलत फैसला हैं ,उत्तर प्रदेश में वीआईपी कल्चर को खत्म करने के लिए चल रही चेकिंग अभियान को लेकर डिप्टी सीएम बृजेश पाठक काफी नाराज दिखे उन्होंने कहा कि इस तरीके के अभियान से हम सहमत नहीं है और न ही हम इसका समर्थन कर रहे हैं, योगी के इस अभियान को रोका जाना चाहिए , बताते चलें कि राज्य से वीआईपी कल्चर को खत्म करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे प्रदेश में अभियान चलाने के आदेश दिए हैं

ALSO READ उत्तर प्रदेश का कुख्यात बदमाश मोनू उर्फ चवन्नी एनकाउंटर में ढेर

इसी आदेश के तहत यूपी पुलिस उत्तर प्रदेश के अलग-अलग शहरों में वीआईपी कल्चर खत्म करने का अभियान चला रही है ,जिसके तहत देखा गया की उत्तर प्रदेश में यूपी पुलिस ने बीजेपी के कई सारे नेताओं के गाड़ी को रोककर हूटर, फ्लैश लाइट, और शीशे पर से काली फिल्म उतार रही हैं, बीते दिनों कानपुर के गोविंद नगर में पुलिस ,भाजपा नेता शैलेंद्र त्रिपाठी की गाड़ी का हूटर उतरवा रही थी ,जिससे नाराज शैलेंद्र त्रिपाठी पुलिस वालों से भिड़ गए ,इस मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल होने लगा जिसको लेकर पुलिस ने शैलेंद्र त्रिपाठी के ऊपर केस दर्ज कर लिया है ,इसके अलावा उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी से भी यूपी पुलिस VIP कल्चर को लेकर कहा सुनी हो गयी ,जिसके बाद यूपी में योगी के VIP कल्चर को लेकर एक बार फिर सीएम योगी और बृजेश पाठक आमने सामने आगये है ,बताते चले कि डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने पत्रकारों से इसी वाक्य पर बात करते हुए कहा मुझे पता चला है इस बारे में कल मैंने सीपी महोदय से भी बात की थी ,कार्यकर्ताओं की मान-सम्मान से हम कोई समझौता नहीं करेंगे ,मुकदमा खत्म होगा और इस तरह से गाड़ी रोक कर जो अभियान चल रहा है इससे हम सहमत नहीं है इस अभियान को रोका जाना चाहिए,बृजेश पाठक के इस बयान के यूपी में अब सियासत गरमा गई हैं ,लोग सोशल मीडिया पर तरह तरह के सवाल उठा रहे ,लोगों का कहना हैं कि क्या लोकसभा चुनाव के बाद बीजेपी दो गुट में बट चुकी हैं ,क्या योगी का ये फैसला गलत है ,क्योकि बीजेपी नेता यूपी पुलिस के ऊपर अभियान के आड़ में को गुंडई करने का आरोप लगा रहे है वैसे आपको योगी का फैसला कैसा लगा है आप अपनी बात कमेंट सेक्शन बता सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here