Shivraj Cabinet 28-06-2022 : शिवराज कैबिनेट के महत्वपूर्ण फैसलों पर एक नजर

सीएम शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज कैबिनेट की अहम बैठक हुई। जिसमे कई अहम प्रस्तावों पर मुहर लगी। फैसलों की जानकारी देते हुए गृहमंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने बताया। कि अब मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान राशि 150 करोड़ से बढ़ाकर 200 करोड़, और विधायक स्वेच्छानुदान राशि 15 लाख से बढ़कर 50 लाख हो गई है। इसके साथ ही उज्जैन और बुधनी में चिकित्सा महाविद्यालय की स्वीकृति। 23 नए आईटीआई और नेशनल फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी भोपाल में खोलने के लिए जमीन की स्वीकृति दी गई ।  

उज्जैन और बुधनी में मेडिकल कॉलेज की होगी स्थापना

मंत्री परिषद ने उज्जैन और बुधनी में मेडिकल कॉलेज की स्थापना के प्रस्ताव को मंगलवार को हुई कैबिनेट बैठक में मंजूरी दी। उज्जैन और बुधनी में लंबे समय से मेडिकल कॉलेज की मांग को मद्देनजर रखते हुए फैसला लिया गया…बुधनी में 100 MBBS सीटों की क्षमता वाले मेडिकल कॉलेज का निर्माण होगा। जिसमें 500 मरीजों की क्षमता वाले अस्पताल में लोगों को इलाज की सुविधा मिलगी साथ में नर्सिंग की पढ़ाई के लिए 60 सीटों वाले पैरामेडिकल कॉलेज के निर्माण के प्रस्ताव को भी मंजूरी मिली।

उद्योगपतियों को अनुमति के लिए TNCP के चक्कर लगाने से मुक्ति

एमएसएमई (MSME) और प्राइवेट इंवेस्टर्स क द्वारा विकसित, विकासाधीन और प्रस्तावित औद्योगिक क्षेत्रों, क्लस्टरों में सभी स्वीकृत और स्वीकार्य गतिविधियों के लिए टीएनसीपी (Town and Country Planning) के अधिकारी उद्योग आयुक्त को दिए जाने के प्रस्ताव को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी. जिसके बाद अब उद्योगपतियों को अनुमतियों के लिए TNCP नहीं जाना होगा।

मुख्यमंत्री और विधायकों की स्वेच्छानुदान राशि में बढ़ोतरी

कैबिनेट मीटिंग में सीएम स्वेच्छानुदान राशि को बढ़ाकर 200 करोड़ कर दिया गया है। वही विधायकों के स्वेच्छानुदान राशि में 35 लाख वृद्धि की गई है, जिसके बाद विधायकों का स्वेच्छानुदान राशि बढ़कर 50 लाख हो गई है। इसके अलावा विधायक निधि जो अबतक 1 करोड़ 85 लाख थी उसे बढ़ाकर सीधा ढ़ाई करोड़ करने का प्रस्ताव भी कैबिनेट में पास किया गया। हालांकि स्वेच्छानुदान राशि बढ़ाए जाने को लेकर कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं।

भोपाल में खुलेगी नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी

भोपाल में नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी (National Forensic Sciences University) को खोलने के प्रस्ताव को भी कैबिनेट मीटिंग में मंजूरी मिली। जिसका ऐलान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने 2 महीने पहले भोपाल दौरे के दौरान किया था।  नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी एक सेंट्रल यूनिवर्सिटी है, जिसके लिए राज्य सरकार ने बरखेड़ा बोंदर ग्राम में 15 एकड़ सरकारी जमीन मुफ्त में देने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इसकी कीमत 31 करोड़ 57 लाख रुपए है।

प्रदेश के 23 विकासखंडों में खुलेंगे आईटीआई संस्थान

मध्यप्रदेश में 23 विकासखंडों में आईटीआई खोलने के प्रस्ताव को पास किया गया।  जिसमें मुंगावली, सांवेर, कहीवाड़ा, धनोरा, महाइगढ़, शाहनगर, पलेरा, रीठी, ​​​​​​​​​​​​​​हनुमना, रामपुर बघेलान, पंधाना, नटेरन, बमोरी, पिपलौदा, कुंडम, नईगढ़ी और मलखेड़ा में नए आईटीआई संस्थानों का संचालन होगा।

तेंदूत्ता संग्राहक को अब हर बोरे पर मिलेंगे 3 हजार

कैबिनेट बैठक में तेंदूपत्ता संग्राहक परिश्रमिकों को प्रति बोरे के हिसाब से पहले 2500 रुपए मिलते थे जिसे राज्य सरकार ने बढ़ाकर अब 3000 रुपए कर दिया है।  

राज्य सरकार द्वारा फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ (THE KASHMIR FILES) को टैक्स फ्री करने के बाद सरकार entertainment tax  मनोरंजन कर में 80 लाख के नुकसान की क्षतिपूर्ति राज्य सरकार सरकार करेगी।

गुना (Guna )जिले के आरोन में हुए गोलीकांड में शहीद हुए 3 दिवंगत पुलिस जवानों को एक-एक करोड़ रुपए की अनुग्रह राशि देने के प्रस्ताव को भी कैबिनेट में मंजूरी मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.