बिना चुनाव के कैसे बाजी मारकर ओम बिरला बने स्पीकर

0
55

ओम बिरला एक बार फिर लोकसभा के स्पीकर बन गए हैं. बुधवार को उन्हें ध्वनिमत से स्पीकर चुना गया. बता दें कि (NDA) ने राजस्थान के कोटा से तीसरी बार सांसद ओम बिरला को अपना प्रत्याशी बनाया था, जो चुनाव जीत चुके हैं. वहीं, विपक्षी INDIA ब्लॉक ने केरल के मवेलीकारा से 8 बार सांसद के सुरेश को मैदान में उतारा था.लेकिन एक बार फिर ओम बिरला ने बाजी मार ली है .

ALSO READ नासा का दावा 14 साल बाद जुलाई 2038 में ब्रह्माण्ड से पृथ्वी और इंसानों का मिट जायेगा नामों निशान

आपको बता दे कि जिसके बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ओम बिरला को लोकसभा स्पीकर बनने की बधाई दी. हालांकि, इस दौरान अखिलेश यादव उनपर निशाना साधने से भी नहीं चूके. अखिलेश यादव ने कहा, लोकसभा स्पीकर जी आपका अंकुश विपक्ष पर तो रहता ही है, लेकिन हम उम्मीद करेंगे कि आपका अंकुश सत्ता पक्ष के सांसदों पर भी रहे. अखिलेश यादव ने कहा, लोकसभा के स्पीकर को मैं बहुत बहुत बधाई देना चाहता हूं. जहां पीएम और विपक्ष के नेता राहुल गांधी ने बधाई दी. मैं भी उनसे जुड़कर बधाई देना चाहता हूं. आप दोबारा स्पीकर चुने गए हैं. आपके पास 5 साल का अनुभव रहा है. मैं अपनी ओर से और अपने साथियों की ओर से बहुत बहुत बधाई देता हूं. अखिलेश ने कहा, जिस पद पर आप बैठे हैं. इससे गौरवशाली परंपराएं जुड़ी हैं. हम सब यही मानते हैं कि बिना भेदभाव के आगे बढ़ेगा और लोकसभा स्पीकर के नाते आप सभी दल और सांसदों को बराबरी का मौका देंगे. निष्पक्षता इस महान पद की जिम्मेदारी है. आपसे अपेक्षा है कि किसी भी जनप्रतिनिधि की आवाज दबाई न जाए. न ही निष्कासन जैसी कार्रवाई दोहराई जाए. आपका अंकुश सत्ता पक्ष पर भी रहे. अध्यक्ष महोदय आपके इशारे पर सदन चले. इसका उल्टा न हो. हम आपके हर न्याय संगत फैसले के साथ खड़े हैं. मैं आपको अध्यक्ष पद पर बैठने के लिए बधाई देता हूं. मैं नए सदन में पहली बार आया हूं. मुझे लगा कि आपकी कुर्सी बहुत ऊंची होगी, जिस सदन को मैं छोड़कर आया हूं, वहां कुर्सी बहुत ऊंची है. जहां यह नया सदन है, पत्थर तो सही हैं लेकिन दीवार में कुछ सीमेंट अभी भी लगा है. लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा स्पीकर बनने पर ओम बिरला को बधाई दी. इस दौरान राहुल गांधी ने कहा, सरकार के पास नंबर हैं. लेकिन विपक्ष भी भारत की जनता की आवाज है. राहुल ने कहा, यह बहुत जरूरी है कि विपक्ष की आवाज को भी सदन में उठाने की अनुमति दी जाए. आपको बता दे कि ओम बिरला को दूबारा लोकसभा स्पीकर चुने जाने के बाद विपक्ष लगातार तंज कसते हुए बीजेपी के ऊपर निशाना साध रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here