शराबी मास्टर स्कूल में करता हैं गाली गलौज

0
28

प्रदेश में स्कूल खुलने के साथ ही बच्चे अपने भविष्य को गढ़ने स्कूल जाने लगे जिसकी कई तस्वीर सामने आई,,,लेकिन स्कूल लगने के साथ ही सूरजपुर से एक ऐसी तस्वीर निकल कर सामने आ रही है जिससे बच्चो के भविष्य को लेकर परिजन चिंता में है क्या है पूरा मामला देखिये इस रिपोर्ट में ,,,

ALSO READ योगी और ब्रजेश पाठक आमने-सामने, खत्म होगा योगी का ये बड़ा अभियान

तस्वीरों में नज़र आ रहे बच्चे रामानुजनगर ब्लाक के सुरता ग्राम पंचायत के छतापारा प्राथमिक स्कूल के बच्चे है ,,,जिनसे शिक्षा विभाग के बीओ जानकारी लेने स्कूल पहुँचे है,,,,अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा क्या हुआ कि स्कूल खुलते ही बीओ साहब को स्कूल पहुँच बच्चों से जानकारी लेनी पड़ रही है,,, दरअसल सुरता गांव के ग्रामीण और छात्रों का आरोप है कि छातापारा स्कूल के हेडमास्टर समयलाल शराब के नशे में स्कूल आते है और बच्चो के साथ गाली गलौज और मारपीट करते है जब मन करता है हाजरी लगा कर चले जाते है,,,,जब इस मामले को लेकर ग्रामीणों ने इसकी शिकायत विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी से की तो उनके द्वारा स्कूल का निरीक्षण किया गया और जब स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों से इस सम्बंध में पूछा गया तो बच्चों ने क्या कहा आप भी सुनिए ।बच्चे दबी जुबान में यह कह रहे है कि सर शराब के नशे में आते है और चले जाते है ,,,वहीं शिक्षक समय लाल ने से जब इस सम्बंध में परिजनो ने सवाल किया तो वहभड़क उठे और कहने लगे कि कोई बताए तो मैंने कब शराब पी है ,,सारे आरोप गलत है । जिसके बाद सरपंच और गांव के लोगों ने इसकी जानकारी बीओ को दिया


शिकायत मिलने के बाद शिक्षा विभाग के बीओ स्कूल अपने सहयोगियों के साथ पहुँचे और छात्रों सहित ग्रामीणों से जानकारी ली उन्होंने बताया कि जांच में पाया गया है कि शिक्षक शराब के नशे में स्कूल पहुँचे थे और शिक्षक द्वारा पहले भी ऐसा किया जा चुका है लेकिन माफी मांगने पर हिदायत देकर उन्हें पूर्व में छोड़ दिया गया था,,,उनके द्वारा फिर से ऐसा कृत्य सामने आने पर प्रतिवेदन तैयार किया गया और कार्यवाही के लिए चिट्टी भी वरिष्ट अधिकारियों को लिखा गया है ।स्कूल खुलने के साथ ही ऐसी तस्वीरें से कई तरह के सवालिया निशान खड़ा होती है वहीं सबसे बड़ा सवाल यह भी उठता है कि क्या ऐसे शिक्षक सच में नशे में धुत होकर नोनिहलो का भविष्य रोशन कर पाएंगे ,,,,बरहाल देखना होगा कि शिक्षा विभाग के बीओ के प्रतिवेदन पर विभाग दोषी शिक्षक पर क्या कार्यवाही करता नजर आता है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here