दलित छात्रा के साथ दुष्कर्म, पीड़ित को पुलिस न्याय दिलाने के लिए कर रही है टालमटोल

कानपुर देहात डेरापुर थाना क्षेत्र के नत्थू जाली गांव से एक ऐसी खबर आयी जो मानवता को शर्मशार कर देने वाली हैं। एक दलित नाबालिग छात्रा घूमने के लिए अपने मामा के गांव गांधी में आयी थी।

ALSO READ जानें क्यों यूपी पुलिस ने लिखा 100 साल की बुजुर्ग महिला के खिलाफ रंगदारी का मुकदमा

लेकिन उसको ये नहीं पता था कि कुछ दुष्कर्मी लोग उसपर नजर लगाये बैठे थे। पीड़ित दलित परिवार ने आरोप लगाते हुए बताया है कि कांधी गांव निवासी रमन कटिहार पुत्र शिवराम, अंकित कुम्हार पुत्र परशुराम इन दोनों ने 13 वर्षीय नाबालिग छात्रा को अपनी मोटरसाइकिल पर बैठाकर कर एक सुनसान जगह ले गए दोनों ने पहले तो छेड़खानी की इसके बाद जब पेट नहीं भरा तो बच्ची के दुष्कर्म भी किया। लड़की किसी तरह अपने मामा के घर पूरी घटना को बताया। घटना को सुनकर पीड़ित परिवार ने थाना डेरापुर में शिकायत किया और आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए निवेदन किया।

लेकिन राजनीतिक दबाव के चलते हैं पीड़ित परिवार पर समझौते का दबाव बना दिया गया। अब पीड़ित परिवार फिर न्याय मांगने के लिए थाना डेरापुर के चक्कर काटने को मजबूर है। वहीं दूसरी तरफ डेरापुर थाना पुलिस ने नाबालिग छात्रा का मेडिकल परीक्षण के लिए अस्पताल भेजा दिया है। लेकिन पुलिस अभी भी पीड़ित परिवार की न्याय दिलाने के लिए टालमटोल कर रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *