Home national केरल सरकार का आत्मसमर्पण करना है हैरानी भरा, SC ने लगाई तीखी...

केरल सरकार का आत्मसमर्पण करना है हैरानी भरा, SC ने लगाई तीखी फटकार

14
Supreme Court

नई दिल्ली (New Delhi), भारत: देश में फैली कोरोना महामारी (Corona Virus) का असर जहां कम होने लगा है वहीं दूसरी तरफ बकरीद के मौके पर केरल सरकार द्वारा छूट देने के मामले में देश की शीर्ष अदालत (Supreme Court) ने सरकार पर फटकार लगाई है। साथ ही फैसले पर सुनवाई के दौरान रोक लगाई है।

केरल सरकार के फैसले पर SC ने कही बात
इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट (SC) ने आज मंगलवार को मामले पर सुनवाई के बाद कहा कि, केरल सरकार को व्यापारियों की ओर से लॉकडाउन में रियायत देने की मांग के आगे आत्मसमर्पण करते देखना हैरानी भरा है। साथ ही केरल सरकार को निर्देश जारी करते हुए कहा कि, वह संविधान के अनुच्छेद 21 और 144 को ध्यान में रखे और कांवड़ यात्रा केस को लेकर दिए हमारे आदेश का पालन करे।’ सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसी भी तरह का दबाव नागरिकों के जीवन के अधिकार का उल्लंघन नहीं कर सकता है। इसके अलावा यह भी कहा कि, अगर कोई अनचाही घटना होती है तो कोई भी नागरिक शीर्ष न्यायालय को इसकी जानकारी दे सकते है और उसके हिसाब से कार्रवाई की जाएगी।

जानें क्या है पूरा मामला
आपको बताते चले कि, बकरीद को देखते हुए केरल राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बीते दिन पहले ही लॉकडाउन के प्रतिबंधों में छूट देते हुए आदेश जारी किए है। बताया जा रहा है कि, ईद के लिए रविवार से यह छूट तीन दिन के लिए दी गई है। इस दौरान कपड़े, जूते-चप्पल की दुकान, ज्वैलरी की दुकान, गिफ्ट आइटम की दुकान, घर के सामान और इलेक्ट्रॉनिक्स स्टोर और रिपेयरिंग सेंटर को खोलने की मंजूरी दी गई है। रियायत देने के पीछे केरल सरकार ने आर्थिक संकट और व्यापारियों की मांग का उल्लेख किया था। बताया जा रहा है कि, केरल राज्य में कोरोना के नए मामले बढ़ते जा रहे है।