Home national SC का बड़ा फैसला: राजद्रोह मामले में पॉलिटिकल एक्टिविस्ट एरेन्ड्रो को किया...

SC का बड़ा फैसला: राजद्रोह मामले में पॉलिटिकल एक्टिविस्ट एरेन्ड्रो को किया रिहा

18
Political activist Erandro

नई दिल्ली (New Delhi), भारत: कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus) के दौर में कई मामले चर्चा में बने रहते है जहां आज 19 जुलाई को सेडिशन लॉ के तहत गिरफ्तारी के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। जहां कोर्ट ने अदालत ने मणिपुर में गिरफ्तार पॉलिटिकल एक्टिविस्ट एरेन्ड्रो लीचोम्बम को आज शाम 5 बजे तक रिहा करने के आदेश दिए हैं। इसके लिए रिहा करने के साथ जुर्माना भी आरोपित किया गया है।

शीर्ष अदालत (Supreme Court) ने मामले में की सुनवाई
इसे लेकर देश की शीर्ष अदालत में सुनवाई के दौरान जनरल तुषार मेहता ने कहा कि मामले की सुनवाई को मंगलवार तक से लिए टाल दिया जाए, लेकिन जस्टिस ने तत्काल रिहाई का आदेश दिया है। मामले को लेकर बताया जा रहा है कि, पॉलिटिकल एक्टिविस्ट एरेन्ड्रो ने उनकी कोरोना को लेकर की गई पोस्ट के बाद हिरासत में लिया गया था। जहां बताया जा रहा है कि, उन्होंने कहा था कि गोबर और गोमूत्र से कोरोना ठीक नहीं होगा। सुनवाई के दौरान जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और एमआर शाह की बेंच ने कहा, ‘याचिकाकर्ता को लगातार हिरासत में रखना आर्टिकल 21 के तहत निजी स्वतंत्रता और आजादी के अधिकार का उल्लंघन होगा। जहां 1,000 के पर्सनल बॉन्ड पर रिहा करने के आदेश जारी किए गए है।

फेसबुक पोस्ट को लेकर मणिपुर पुलिस ने लगाया था आरोप
इसे लेकर बताते चले कि, इससे पहले जून 2020 में एरेन्ड्रो पर राज्य पुलिस ने फेसबुक पोस्ट को लेकर राजद्रोह का आरोप लगाया था। पोस्ट में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ राज्यसभा सांसद सनाजाओबा लीशेम्बा की तस्वीर थी। बताया जा रहा है कि, उन्होंने अपनी पोस्ट में तस्वीर के कैप्शन में लिखा था कि, मिनाई माचा( ‘एक नौकर का बेटा’) जिसमें मणिपुर के राजा को भाजपा के वरिष्ठ नेता के सामने हाथ जोड़कर झुकते हुए दिखाया गया। जिसे लेकर उन पर राजद्रोह का आरोप लगा था।